तुम थे 2


ज़िन्दगी यूँ तो न थी
तेरे आने से पहले
तेरे जाने के बाद
तुम थे तो ये शामें थी
जिसमे हम चाहत के पंख लगाए, 
आसमानो में उड़ते थे
दीवानगी यूँ तो न थी
तेरे आने से पहले
तेरे जाने के बाद
तुम थे तो ये यादें थी !!
जिसमे हम तुम खोए हुए,
ख्वाब सजाया करते थे
आवारगी यूँ तो न थी
तेरे आने से पहले
तेरे जाने के बाद
तुम थे तो ये रातें थी !!
जिसमे हम चांदनी में नहाये,
तारों की सैर किया करते थे
सादगी यूँ तो न थी
तेरे आने से पहले
तेरे जाने के बाद
तुम थे तो वो बातें थी !!
जिसमे में हम हस्ते हुए,
खो जाया करते थे
मैं यूँ तो न था
तेरे आने से पहले
तेरे जाने के बाद
20160913_142614

 

6 thoughts on “तुम थे 2

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s